You are currently viewing Maha Sudarshan Mantra

Maha Sudarshan Mantra

Maha Sudarshan Mantra | महा सुदर्शन मंत्र | Maha Sudarshan Mantra in English | Maha Sudarshan Mantra with English meaning| महा सुदर्शन मंत्र हिंदी में | महा सुदर्शन मंत्र हिंदी अर्थ सहित | सभी प्रकार के यन्त्र , मंत्र , तंत्र , जादू टोना , टुटके, शत्रुओं , बीमारियों , परेशानियों से मुक्ति के लिए सुदर्शन मंत्र | आयु वृद्धि , कार्यों में सफलता , उत्तम स्वास्थ्य , सुख , शांति , धन – संपत्ति और समृद्धि के लिए महा सुदर्शन मंत्र 

Subscribe on Youtube:The Spiritual Talks

Follow on Pinterest: The Spiritual Talks

 

 

 

maha sudarshan mantra

 

 

 

According to Hindu Mythology chanting of Sudarshana Mantra regularly is the most powerful way to please God Sudarshana and get his blessing. Regular chanting of Sudarshana Mantra or listening to sudarshan mantra gives peace of mind and keeps away all the evil from your life and makes you healthy, wealthy and prosperous. It frees from the clutches of death, increases the lifespan of chanter or listener of mantra. It keeps away and kill the harms made to anyone by means of yantra, tantra, poison, weapons by others or enemies. It makes the health at its best and makes all the deeds successful. It gives all the wealth to devotees and makes all the directions auspicious for them.

 

 

हिंदू पौराणिक कथाओं के अनुसार सुदर्शन मंत्र का नियमित जप भगवान सुदर्शन को प्रसन्न करने और उनका आशीर्वाद प्राप्त करने का सबसे शक्तिशाली तरीका है। सुदर्शन मंत्र के नियमित जाप या सुदर्शन मंत्र को सुनने से मन को शांति मिलती है और आपके जीवन से सभी प्रकार की बुराइयां दूर होती है और आप स्वस्थ, धनवान और समृद्ध बनते हैं। यह मंत्र आपको मृत्यु के चंगुल से मुक्त करता है, जपकर्ता या मंत्र सुनने वाले की आयु को बढ़ाता है। यह दूसरों के द्वारा या शत्रुओं के द्वारा किये गए यंत्र, तंत्र, विष, शस्त्र आदि से हुई हानियों को दूर रखता है और उनको नष्ट करता है। यह स्वास्थ्य को सर्वोत्तम बनाता है और सभी कार्यों को सफल बनाता है। यह भक्तों को सभी प्रकार की संपत्ति देता है और उनके लिए सभी दिशाओं को शुभ बनाता है।

 

Aum Shreem Hreem Aim Kleem

ॐ श्रीं ह्रीं ऐं क्लीं

 

Krishnaya Govindaya Gopi Jan Vallabhaya,

(I invoke Krishna, govinda, the king of gopis)

कृष्णाय गोविन्दाय गोपी जन वल्लभाय 

(मैं गोपियों के राजा कृष्ण, गोविंद का आह्वान करता हूं / करती हूँ ।)

Paraya Param Purushaya Paramatmane,

(the divine, ultimate one)

पराय परम पुरुषाय परमात्मने 

(हे दिव्य परम परमात्मा !)

 Para karma mantra yantra tantra aushadh astra shastrani samhara samhara.

( please ward away and kill the harms made to me by means of yantra, tantra, poison, weapons by others)

पर कर्म मंत्र यन्त्र तंत्र औषध अस्त्र शस्त्राणि संहार संहार  

(कृपया मंत्र , यंत्र, तंत्र, विष, शस्त्रों के माध्यम से दूसरों के द्वारा होने वाली हानियों को दूर भगाएं , संहार कीजिये , संहार कीजिये।) 

 Mrityor Mochaya Mochaya, Ayur vardhaya vardhaya,

(free me from the clutches of death, increase my lifespan)

मृत्योर मोचय मोचय , आयुर वर्धय वर्धय 

(मुझे मृत्यु के चंगुल से मुक्त करिये , मुक्त करिये , मेरे जीवन काल में वृद्धि कीजिये , वृद्धि कीजिये ।)

Kshipra-arogyam cha kuru kuru. Sarva karya siddhim kuru kuru.

(make my health at its best, Make all my deeds successful )

क्षिप्र-आरोग्यम च कुरु कुरु , सर्व कार्य सिद्धिं कुरु कुरु 

(मुझे सर्वोत्तम स्वास्थ्य प्रदान कीजिये , प्रदान कीजिये , मेरे सभी कार्यों को सफल बनाइये , सफल बनाइये ।) 

Aum namo bhagavate maha sudarshanaya deeptre,

( I bow to the maha sudarshana, the light)

ॐ नमो भगवते महा सुदर्शनाय दीपत्रे

(मैं प्रकाशमय महा सुदर्शन को नमन करता हूं / करती हूँ ।)

 jwala parivritaya sarvaarishta vinaashaaya,

(one who is surrounded by the flames, and one who is the slayer of all bad things)

ज्वाला परिवृताय सर्वारिष्ट विनाशाय

(वह जो आग की लपटों से घिरा हुआ है, और जो सभी बुरी चीजों का नाशक है।)

Sarva sampatkaryaaya, Sarva dhik shobhan karaaya,

(one who gives all wealth, and one who makes all directions auspicious)

सर्व सम्पत कराय , सर्व धिक् शोभन कराए

(वह जो सभी प्रकार की संपत्ति प्रदान करता है, और जो सभी दिशाओं को शुभ बनाता है।)

Sahasra jwaalaaya Paramatmane, Parabrahmane, Paramjyotishe hum phat swaaha ||

(one who has thousand flames around, the ultimate being, the ultimate light, to him I offer my devotion)

सहस्र ज्वालाय परमात्मने , परब्रह्मणे , परंज्योतिषे हुं फट स्वाहा 

(मैं उस परम सत्ता , परम प्रकाश जिसके चारों ओर सहस्रों ज्वालायें हैं , उसे अपनी भक्ति अर्पित करता हूँ , करती हूँ ।)

 

 

 

maha sudarshan mantra

 

 

Aum Shreem Hreem Aim Kleem

Krishnaya Govindaya Gopi Jan Vallabhaya,

Paraya Param Purushaya Paramatmane,

Para karma mantra yantra tantra aushadh astra shastrani samhara samhara.

 Mrityor Mochaya Mochaya, Ayur vardhaya vardhaya,

Kshipra-arogyam cha kuru kuru , Sarva karya siddhim kuru kuru,

Aum namo bhagavate maha sudarshanaya deeptre,

 Jwala parivritaya sarvaarishta vinaashaaya,

Sarv sampatkaryaaya, sarva dhik shobhan karaaya,

Sahasra jwaalaaya Paramatmane, Parabrahmane, Paramjyotishe hum phat swaaha ||

 

 

ॐ श्रीं ह्रीं ऐं क्लीं

कृष्णाय गोविन्दाय गोपी जन वल्लभाय

पराय परम पुरुषाय परमात्मने  

पर कर्म मंत्र यन्त्र तंत्र औषध अस्त्र शस्त्राणि संहार संहार  

मृत्योर मोचय मोचय , आयुर वर्धय वर्धय 

क्षिप्र-आरोग्यम च कुरु कुरु , सर्व कार्य सिद्धिं कुरु कुरु 

ॐ नमो भगवते महा सुदर्शनाय दीपत्रे

ज्वाला परिवृताय सर्वारिष्ट विनाशाय

सर्व सम्पत कराय , सर्व धिक् शोभन कराए

सहस्र ज्वालाय परमात्मने , परब्रह्मणे , परंज्योतिषे हुं फट स्वाहा 

मृत्योर मोचय मोचय , आयुर वर्धय वर्धय 

क्षिप्र-आरोग्यम च कुरु कुरु , सर्व कार्य सिद्धिं कुरु कुरु 

 

 

Aum Shreem Hreem Aim Kleem

I invoke Krishna, Govinda, the King of Gopis

The Divine, The Ultimate One

Please ward away and kill the harms made to me by means of Yantra, Tantra, Poison, Weapons by others

Free me from the clutches of Death, Increase my Lifespan

Make my Health at its Best, Make all my Deeds Successful

I bow to the Maha Sudarshan, the Light

One who is surrounded by the Flames, and one who is the slayer of all bad things

One who gives all Wealth, and one who makes all Directions Auspicious

One who has Thousand Flames around, The Ultimate being, The Ultimate light, to Him I offer my devotion.

 

 

ॐ श्रीं ह्रीं ऐं क्लीं

मैं गोपियों के राजा कृष्ण, गोविंद का आह्वान करता हूं / करती हूँ ।

हे दिव्य परम परमात्मा !

कृपया मंत्र , यंत्र, तंत्र, विष, शस्त्रों के माध्यम से दूसरों के द्वारा होने वाली हानियों को दूर भगाएं , संहार कीजिये , संहार कीजिये।

मुझे मृत्यु के चंगुल से मुक्त करिये , मुक्त करिये , मेरे जीवन काल में वृद्धि कीजिये , वृद्धि कीजिये ।

मुझे सर्वोत्तम स्वास्थ्य प्रदान कीजिये , प्रदान कीजिये , मेरे सभी कार्यों को सफल बनाइये , सफल बनाइये ।

मैं प्रकाशमय महा सुदर्शन को नमन करता हूं / करती हूँ ।

वह जो आग की लपटों से घिरा हुआ है, और जो सभी बुरी चीजों का नाशक है।

वह जो सभी प्रकार की संपत्ति प्रदान करता है, और जो सभी दिशाओं को शुभ बनाता है।

मैं उस परम सत्ता , परम प्रकाश जिसके चारों ओर सहस्रों ज्वालायें हैं , उसे अपनी भक्ति अर्पित करता हूँ , करती हूँ।

 

 

 

 

 

Be a part of this Spiritual family by visiting more spiritual articles on:

The Spiritual Talks

For more divine and soulful mantras, bhajan and hymns:

Subscribe on Youtube: The Spiritual Talks

For Spiritual quotes , Divine images and wallpapers  & Pinterest Stories:

Follow on Pinterest: The Spiritual Talks

For any query contact on:

E-mail id: thespiritualtalks01@gmail.com

 

 

 

 

 

 

 

 

spiritual talks

Welcome to the spiritual platform to find your true self, to recognize your soul purpose, to discover your life path, to acquire your inner wisdom, to obtain your mental tranquility.

Leave a Reply